मयंक अग्रवाल ने लगाई पहले ही मैच में शानदार हाफ सेंचुरी

0
254

मेलबर्न में मयंक अग्रवाल ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए शानदार फिफ्टी लगाई.

मेलबर्न: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरे मैच के दूसरे सत्र में मयंक ने शानदार चौका लगा कर अपने करियर की पहली हाफ सेंचुरी पूरी की. मयंक ने 6 चौके लगाकर 95 गेंदों में अपनी फिफ्टी पूरी की. मंयक ने इस पारी में शुरु से ही संवेदनशील बल्लेबाजी की और मौका मिलते ही बड़े शॉट्स लगाए. लंच तक मयंक ने केवल 34 रन लगाए थे. इसके बाद दूसरे सत्र में तीन चौके लगाए. भारत: 80/1 (36 ओवर)

दूसरे सत्र में पहली ही गेंद पर मयंक अग्रावाल ने चौका लगाकर सत्र की बढ़िया शुरुआत की. मयंक ने पुजारा के साथ मिलकर टीम का मजबूत डिफेंस जारी रखा. हालाकि रनों की गति में तेजी तो नहीं दिखी लेकिन दोनों ही बल्लेबाज ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों से परेशान नहीं दिखे. लंच के बाद के पांच ओवर तक यानि पारी के 33वें ओवर तक मयंक ने 41 रन बना लिए थे तो वहीं पुजारा 10 रन के निजी स्कोर पर डटे हुए थे. भारत: 64/1 (33 ओवर)

लंच तक टीम इंडिया की बढ़िया बल्लेबाजी रही. हालाकि टीम इंडिया ने हनुमा विहारी के रूप में एक विकेट जरूर गंवाया उसके बाद भी टीम इंडिया के लिए यह सत्र वैसा ही रहा जैसा कि विराट कोहली चाह रहे होंगे. मयंक ने इस सत्र में न केवल अपना विकेट बचाए रखा, बल्कि कीमती 34 रन भी बनाए जिसकी वजह से टीम इंडिया लंच तक अपना स्कोर 50 से ज्यादा कर सकी. भारत: 57/1 (28 ओवर)

23वें ओवर में टीम इंडिया के 50 रन पूरे हुए. विहारी के आउट होने के बाद चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर आए. पुजारा ने एक बार फिर अपनी तकनीक दिखाते हुए ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को मौका नहीं दिया और मयंक के साथ मिलकर टीम का स्कोर 50 रन कर दिया. भारत: 50/1 (20 ओवर)

टीम इंडिया का पहला विकेट हनुमा विहारी के रूप में गिरा. विहारी पैट कमिंस की गेंद पर आउट हुए. कमिंस की बाउंसर विहारी के गल्ब्स से लगकर उछली और दूसरी स्लिप पर खड़े एरोन फिंच ने आसान कैच पकड़ लिया. विहारी 66 गेंदों पर केवल 8 रन बना सके. भारत: 40/1 (19 ओवर)

पारी के 13वें ओवर में पैट कमिंस की बाउंसर हनुमा विहारी के हेलमेट पर जाकर लगी. हालाकि विहारी गेंद लगने के बाद आराम से चलते दिखे और विहारी ने मौका देखकर रन भी ले लिया. लेकिन अंपायर ने विहारी से पूछ ही लिया कि क्या वे ठीक हैं. इसके साथ ही अंपायर ने इशारा कर भारत के फिजियो को बुला लिया. इस बीच विहारी ने सिर को सहलाते दिखे जबकि वे कह रहे थे कि वे ठीक हैं.

7 ओवर में ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजों को पिच से मदद नहीं मिली तो कप्तान टिम पेन ने पारी का 8वां ओवर ही नाथन लॉयन को फेंकने के लिए दे दिया. लायन के इस ओवर में जहां हनुमा विहारी को अपना खाता खोलने का मौका मिल गया तो वहीं ओवर की आखिरी गेंद पर मयंक ने चौका लगा डाला. विहारी को खाता खोलने में 25 गेंदें लग गई. वहीं 10 ओवर के बाद मयंक ने 21 रन बना लिए थे. भारत: 26/0 (10 ओवर)

पहले 5 ओवर में हनुमा विहारी और मयंक अग्रवाल ने टीम इंडिया के लिए अपने विकेट बचाए रखे. मंयक ने जहां अपना स्वाभाविक खेल दिखाते हुए कुछ रन भी बनाए तो वहीं विहारी पूरी तरह से डिफेंसिव नजर आए. विराट पहले 5 ओवर तक अपना खाता नहीं खोल पाए लेकिन अपने विकेट को उन्होंने बखूबी से बचाया. भारत: 13/0 (5 ओवर)

टीम इंडिया का पहला रन मयंक अग्रवाल ने लिया. पारी के दूसरे ओवर में जोश हेजलवुड के पहले ओवर की तीसरी गेंद पर मयंक ने कवर पर खेलकर तीन रन लिए और मैच में टीम के पहले रन के साथ-साथ अपने करियर का पहला रन भी लिया.

टीम इंडिया की पारी की शुरुआत हनुमा विहारी ने की. वहीं ऑस्ट्रेलिया के लिए पहला ओवर मिचेल स्टार्क ने फेंका. पहला ओवर हनुमा विहारी ने मेडन खेला. स्टार्क विहारी को ज्यादा परेशान नहीं कर सके. भारत: 0/0 (1 ओवर)

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है. विराट कोहली का मानना है कि बाद में गेंदबाजी करने का फायदा टीम को मैच के चौथे दिन और पांचवे दिन मिलेगा.

चार मैचों की सीरीज इस समय 1-1 से बराबरी पर है और इस मैच से जीत न सिर्फ टीम को बढ़त देगी बल्कि साल-2018 का अंत जीत के साथ करने से एक मनोवैज्ञानिक मजबूती भी टीम को मिलेगी जो आने वाले साल में सकारात्मक साबित होगी. इसी के मद्देनजर विराट कोहली ने टीम इंडिया में अहम बदलाव किए है.

वहीं घर में सीरीज जीतने के लिए उतावली हो रही आस्ट्रेलिया ने भी अपनी टीम में एक बदलाव किया है. खराब फॉर्म से जूझ रहे पीटर हैंड्सकॉम्ब के स्थान पर टीम में ऑलराउंडर मिशेल मार्श को टीम में जगह मिली है.

नाथन लॉयन की भूमिका होगी अहम
इस मैच में एक बार फिर सभी की नजरें ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन पर होंगी जिन्होंने पर्थ में भारतीय टीम को हराने में अहम भूमिका निभाई थी. आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी की बात की जाए तो मार्कस हैरिस, एरॉन फिंच पर बड़ी जिम्मेदारी है. उस्मान ख्वाजा भी अच्छी फॉर्म में हैं.

पिच को लेकर भी काफी चर्चाएं हुईं
एमसीजी की पिच को लेकर भी काफी चर्चाएं हैं. इस पर घास देखी गई है और उम्मीद है कि यह तेज गेंदबाजों के लिए मददगार साबित होगी. कुछ दिन पहले आस्ट्रेलियाई टीम के कोच जस्टिन लैंगर भी इस बात को कह चुके हैं कि एमसीजी की विकेट पर घांस है जिससे बल्ले और गेंद में अच्छी प्रतिस्पर्धा की उम्मीद है.

टीमें
भारत : विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, हनुमा विहारी, अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और ईशांत शर्मा

आस्ट्रेलिया : टिम पेन (कप्तान/विकेटकीपर), एरॉन फिंच, मार्कस हैरिस, उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, ट्रेविस हेड, मिशेल मार्श, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, नाथन लॉयन और जोश हेजलवुड.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here